Sunday, June 16, 2024
HomeHindi Lyricsजवाब Jawaab Lyrics in Hindi - Badshah

जवाब Jawaab Lyrics in Hindi – Badshah

जवाब Jawaab Lyrics in Hindi – Badshah

Jawaab Lyrics in Hindi is a brand new song sung by Badshah. The song lyrics are written by Badshah. The music is given by Badshah, IOF and Hiten. The video song features Badshah and Gayatri Bhardwaj.

Jawaab Song Credits

Song Jawaab
Singer Badshah
Lyrics Badshah
Music Badshah, IOF, Hiten
Label Badshah

 

ये मुनासिब होगा हमको थामलो के
हम भी चाँद ढूंढने लगे हैं बादलों में
नाम शामिल हो चूका है अपने पागलों में

मतलबी इस दुनिया से किनारे करलू
नाम तेरे सारी की सारी बहारें करदुं
बस चले तो तेरे हाथ में सितारे रखदूं

शाम का रंग क्यों
तेरे रंग में मिल रहा है

दिल मेरा तेरे संग
बैठ कर क्यों खिल रहा है

है कोई जवाब
ओ मेरे जनाब!
है कोई जवाब
इस बात का है

आपके अपने ही हैं हमको जानिये तो
इस शरम के लहज़े को पहचानिये तो
बात बन जायेगी बात मनिये तो

क्या है कुछ नहीं ये चार दिन की जिंदगानी
तारों के हेर फेर की ये कारिस्तानी
ना कभी भी मिटने वाली लिख दें कहानी

आपकी आँखों में जो लिखा है
मैं वो पढ़ रहा हूँ

बात वो होठों पर कब आएगी
इंतज़ार कर रहा हूँ

है कोई जवाब
ओ मेरे जनाब!
है कोई जवाब
इस बात का है

बुनते रहे
या ना बुने ये खाब
है कोई जवाब
इस बात का है

Written By : Badshah

Jawaab Lyrics in English – Badshah

Ye munasib hoga hamko thaamlo ke
Ham bhi chaand dhoondne lage hain badalon mein
Naam shamil ho chuka hai apna pagalon mein

Matlabi iss duniya se kinaare karlun
Naam tere saari ki saari bahaarein kardun
Bas chale to tere hath mein sitaare rakhdun

Shaam ka rang kyon
Tere rang mein mil raha hai

Dil mera tere sang
Baith kar kyon khil raha hai

Hai koi jawaab
O mere janaab
Hai koi jawaab
Iss baat ka

Aapke apne hi hain hamko jaaniye to
Iss sharam ke lehje ko pehchaniye to
Baat ban jayegi baat maniye to

Kya hai kuch nahi ye char din ki zindagani
Taaron ke heir fer ki ye karistani
Na kabhi bhi mitne wali likh dein kahani

Aapki aankhon mein jo likha hai
main wo padh raha hun

Baat wo hontho par kab aayegi
Intezaar kar raha hun

Hai koi jawaab
O mere janaab
Hai koi jawaab
Iss baat ka

Bunte rahe
Ya na bune ye khaab
Hai koi jawaab
Iss baat ka

Written By : Badshah

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments